Search

मर्दाना ताकत बढ़ाने के घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे। Shigrapatan rokne ke gharelu nuskhe 2022



कई मर्द वीर्य के पतलेपन की समस्या से परेशान रहते हैं. आजकल की बदलती लाइफस्टाइल में अनियमित खान-पान, खानपान में पौष्टिक तत्वों की कमी और कुछ गलत आदतों के कारण ज्यादातर मर्द वीर्य पतलेपन, नपुंसकता, शीघ्रपतन, शुक्राणु की कमी जैसी समस्या से परेशान रहते हैं. पुरुष नपुंसकता के लिए सबसे आम कारणों में से एक है क्योंकि जो शुक्राणु अंडे से निषेचन करने वाला हो, हो सकता है कि उस शुक्राणु का उत्पादन ही नहीं हो रहा हो. वीर्य को गाढ़ा करने और सेक्स पावर बढ़ाने आश्चर्यजनक घरेलू उपाय, लड़के जरूर पढ़ेंविश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार वीर्य की सामान्य संख्या कम से कम 20 मिलियन प्रति मिलीलीटर वीर्य ( शुक्राणु ) होती है.

कम से कम 15 मिलियन शुक्राणु प्रति मिलीलीटर कम शुक्राणु की संख्या में माना जाता है जिसे ओलिगोस्पर्मिया कहते हैं. चलिए जानते हैं वीर्य को गाढ़ा करने के आश्चर्यजनक घरेलू उपाय- 1 .अश्वगंधा- अश्वगंधा कई औषधीय गुणों से भरपूर है. इसका प्रयोग महिला व पुरुषों के गुप्त रोगों को दूर करने के लिए आयुर्वेद में सदियों से किया जाता रहा है. अश्वगंधा जड़ का जूस पीने से वीर्य को गाढ़ा बनाने में मदद मिलता है. वीर्य की मात्रा या शुक्राणु की गतिशीलता को भी यह बढ़ाता है. इसके अलावा यह जड़ी-बूटी स्वस्थ टेस्टोस्टेरोन उत्पादन को भी बढ़ाता है. एक गिलास दूध में आधा चम्मच अश्वगंधा चूर्ण मिलाएं और प्रतिदिन सुबह खाली पेट पिने से कुछ ही दिनों में आप का वीर्य गाढ़ा हो जाएगा और शुक्राणु की संख्या भी बढ़ेगी. 2 .पैनेक्स जिंसेंग- पैनेक्स जिसेंग, कोरियन जिनसेंग के रूप में भी जाना जाता है. यह दवा तनाव को दूर करने के लिए चाइनीज दवाइयों में प्रयोग किया जाता है. टेस्टोंस्ट्रोन को बढ़ाने के लिए शुक्राणु की संख्या और गतिशीलता की वृद्धि करने के लिए इसका सेवन करना फायदेमंद होता है. 3 .लहसुन- हर किचन में भोजन के स्वाद को बढ़ाने वाला लहसुन आपकी वीर्य को गाढ़ा करने में काफी मददगार होता है. यह एक प्राकृतिक कामोद्दीपक के रूप में काम करता है. लहसुन शुक्राणु उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करता है. लहसुन में एलिसिन नामक योगिक मौजूद होता है जो वीर्य को बढ़ाता है और रक्त परिसंचरण में सुधार करता है. इसके अलावा लहसुन में मौजूद सेलेनियम शुक्राणु गतिशीलता को बेहतर बनाने में मदद करता है. 4 .ग्रीन टी- ग्रीन टी में एक एंटीऑक्सीडेंट की अधिक मात्रा होती है. जिसके कारण या फर्टिलिटी को बढ़ाती है. यह शुक्राणु कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने वाले मुक्त कणों को बेअसर कर देती है. ग्रीन टी में मौजूद एपीगैलोकेटचीन गैलेट शुक्राणु की गुणवत्ता में सुधार करता है. जिससे गतिशीलता बढ़ती है और इस प्रकार गर्भ निषेचन के लिए इसकी क्षमता में सुधार होता है. 5 .माका जड़- काला किस्म का माका जड़ शुक्राणु उत्पादन और उसकी गतिशीलता को मजबूत बनाने में मददगार होता है. यह एक लोकप्रिय प्रजनन जड़ी- बूटी है जो हार्मोन संतुलन में मदद करती है. इसके लिए कुछ महीनों तक प्रतिदिन 1 से 3 चम्मच माका जड़ का चूर्ण सेवन पूरे दिन में 2 बार करें. आप इसे एक ग्लास पानी में प्रोटीन शेक या फिर इसे चुटकीभर लेकर अपने खाने में मिला सकते हैं. 6 .एक्सरसाइज- एक्सरसाइज स्वस्थ शुक्राणु उत्पादन को बढ़ावा देने में मददगार होता है. इसकी संख्या में वृद्धि करने के लिए पूरे दिन में 1 घंटे तक प्रतिदिन एक्सरसाइज जरूर करें. बाहर से जुड़ी शारीरिक गतिविधियां साइकिलिंग को छोड़कर और साथ ही भार प्रशिक्षण भी इस समस्या के लिए बेहद फायदेमंद होता है. हालांकि अधिक एक्सरसाइज न करें. इससे आपके वीर्य की संख्या कम हो सकती है. 7 .कौंच का बीज- कौंच बीज का चूर्ण वीर्य को गाढ़ा करने के लिए काफी असरकारी उपायों में से एक है. इसके लिए कौंच के बीज को रात भर के लिए पानी में डाल दें. सुबह इसका छिलका हटा लें और धूप में सुखाकर पीसकर पाउडर बना लें और इसे सुरक्षित रख लें. इस चूर्ण में से एक चम्मच की मात्रा में प्रतिदिन सुबह खाली पेट दूध के साथ सेवन करें. कुछ ही दिनों में वीर्य गाढ़ा होगा, सेक्स क्षमता बढ़ेगी और नपुंसकता की समस्या से छुटकारा मिलेगी. 8 .दमियना- दमियना वीर्य की घटती संख्या के लिए एक बहुत ही अच्छी जड़ी- बूटी है. एक चौथाई चम्मच सुखी दमियना की पत्तियों को एक कप गर्म पानी में डालकर 5-10 मिनट तक उबालकर छानकर शहद मिलाकर पीने से लाभ होता है. इसके लिए दिन में तीन बार कुछ महीने तक लगातार पीना चाहिए. नोट- यह पोस्ट शैक्षणिक उद्देश्य से लिखा गया है. किसी भी प्रयोग से पहले अपने चिकित्सक से सलाह जरूर लें और जानकारी अच्छी लगी हो तो लाइक, शेयर करें. धन्यवाद.

1 view0 comments

Recent Posts

See All

इन घरेलू नुस्खों से बढ़ा सकते हैं अपने लिंग की लंबाई और मोटाई लिंग की मोटाई और लंबाई बढ़ाने के अचूक घरेलू नुस्खे वैसे तो यौन क्रिया में लिंग की लंबाई और मोटाई का कोई खास प्रभाव नहीं पड़ता लेकिन फिर भी

जिन महिलाओ में ये लक्षण नजर आते हैं, उन्‍हें प्रेगनेंट होने में आती है दिक्‍कत गर्भधारण करके मातृत्व का सुख पाना हर महिला का सपना होता है, लेकिन खराब लाइफस्टाइल और गलत खानपान की आदत से महिलाओं के शरीर

रात का अंधेरा शीघ्र पतन (प्रीमैच्यौर इजेक्युलेशन) भारतीय पुरुषों की आम शिकायतों में है, यह कहना है ओआरजी आइएमएस का जिसने छह महानगरों के 971 पुरुषों, 176 महिलाओं पर 2010 में सर्वेक्षण किया है. 40% शादी

WhatsApp Image 2022-01-22 at 12.49.54 AM.jpeg